Home / Uncategorized / बैंगलौर में मुनाक़िदा पांचवें कल हिंद अक़ल्लीयती तिजारती इजलास में मुलक भर के सनअतकारों की शिरकत

बैंगलौर में मुनाक़िदा पांचवें कल हिंद अक़ल्लीयती तिजारती इजलास में मुलक भर के सनअतकारों की शिरकत

शहनाज़ ज़की खलीली, सय्यद यासीन , अबद अल्लाह अकबर अली,नवाज़ शरीफ़ और मुस्लिम अनडसटरीलसटस एसोसी उष्ण को मईशत 2013के ऐवार्ड से सरफ़राज़ किया गया

बैंगलौर: मईशत मीडीया ग्रुप की जानिब से बैंगलौर के होटल दी केनोपी में अक़ल्लीयतों कीमआशी क़ौमी धारे में शमूलीयत: तिजारत ,टैक्नोलोजी और मालियात के माबैन राबिताके मर्कज़ी मौज़ू के तहतपानचवां कल हिंद अक़ल्लीयती तिजारती इजलास मुनाक़िद किया गया जिस में कसीर तादाद में कॉरपोरेट हावसीज़ के ज़िम्मा दारान,हुकूमती अहलकार ,ताजिर-ओ-सनअत कारों ने शिरकत की।फार्मा लीफ़ इंडिया प्राईवेट लीमीटड की टेक्नीकल सर्विसेज़ डायरैक्टर शहनाज़ ज़की खलीली को बेहतरीन ख़ातून ताजिर२०१३,नई ईजादात२०१३ के बाबमें सय्यद यासीन और बेहतरीन ताजिर२०१३ के सिलसिले में अबद अल्लाह अकबर अली और नवाज़ शरीफ़ जबकि समाजी ख़िदमात के बाब में मुस्लिम अनडसटरीलसटस एसोसी उष्ण को कॉरपोरेट सौ सुशिल सर्विसेज़ 2013के ऐवार्ड से सरफ़राज़ किया गया।प्रोग्राम के आर्गेनाईज़र दानिश रियाज़ ने सैमीनार के आग़ाज़ में प्रोग्राम की ग़रज़-ओ-ग़ायत पर गुफ़्तगु करते होएकहा कि अक़ल्लीयतों को मआशी क़ौमी धारे में जोड़ना वक़्त की अहम ज़रूरत है।क्योंकि हिंदूस्तान की बड़ी आबादी को अगर यूं ही छोड़ दिया जाये तो मुल्की शिराॱएॱ निम्मो में ख़ातिरख़वाह इज़ाफ़ा नहीं होगा ।लेकिन जब बकाए बाहम पर अमल करते हुए लोगों को मआशी क़ौमी धारे में शामिल किया जाएगा तो हर आदमी आप की आवाज़ परलब्बैक कहेगा ।क़ुतर से तशरीफ़ लाए इमादा ग्रुप के चरमीन हुस्न चोगले ने कहा कि ग़रीबलोगोंको बेहतर सहूलत से मुज़य्यन करने के लिए अमीर तबक़ा को आगे आना चाहीए।ये एक हक़ीक़त हैकि समाज को बेहतर बनाने में कई इंस्टी टयूशंस काम में आते हैं जिस में मीडीया का रोल बहुत ही अहम है। में समझता हूँ कि अगर मीडीया प्रोग्रामों की बेहतर रिपोर्टिंग करे तो आम अवाम तक बेहतर बातें पहुंच सकेंगी।
लंदन से तशरीफ़ लाए बैंक आफ़ बर्तानिया के मुशीर मुफ़्ती बरकत अल्लाह ने कहा कि उस वक़्त इस्लामी बैंकिंग के लिए लोगों में बेदारी आरही है। अभी हाल ही में बर्तानिया में मुनाक़िदा प्रोग्राम में लोगों ने जिस उम्मीद भरी नज़रों से इस्लामी दुनिया की तरफ़ देखा हैवह एक ख़ुश आइंद बात है।मुफ़्ती बरकत अल्लाह ने कहा कि उस वक़्त ज़रूरत इस बात की है कि तलबा-ओ-नौजवानों के अंदर बेदारी लाई जाये और उन्हें इस्लाम के मआशीनिज़ाम से रोशनास किराया जाये।बेरी ग्रुप के सी एम डी सय्यद मुहम्मद बेरी ने अपनी दास्तान बयान करते हुए कहा कि महिज़ हाथ पर हाथ धरे ज़िंदगी में कामयाबी हासिल नहीं की जा सकती।ना ही झूटे वादों के सहारे अपना वक़ार बनाया जा सकता है।ख़बरनज़रसब्रज़िक्रकी तशरीह बयान करते हुए बेरी ने कहा कि कामयाब ताजिर बनने के लिए इस्लाम के इन उसूलों पर अमल करना इंतिहाई ज़रूरी है।उन्हों ने कहा कि बिज़नस एक Passion है उसे Fashion की तरह नहीं किया जा सकता।
प्रोग्राम के आर्गेनाईज़र दानिश रियाज़ ने अपनी जद-ओ-जहद की दास्तान बयान करते होएकहा किमईशत ने अपने सफ़र का आग़ाज़ EVENTआर्गेनाईज़ करने से किया है जो बतदरीज Maeeshat Media Pvt Ltdकी शक्ल में अब अज़ीम मीडीया हाऊस की शक्ल इख़तियार कर चुका है।आम क़ारईन तक पहुंचने के लिए हम ने पाँच आलमी ज़बान(अंग्रेज़ी ,उर्दू,अरबी,फ़ारसी और हिन्दी )में www.maeeshat.inके नाम से अपनी वेबसाइट भी शुरू की है जो रोज़ाना क़ारईन तक अपने पैग़ाम को पहुंचाने का काम बहसन-ओ-ख़ूबी कर रहा है।इसी के साथ दुनिया में हो रही रोज़ाना तबदीलीयों से मुतास्सिर होकर इस बात की ज़रूरत महसूस की गई कि मुस्लिम इशूज़ पर वक़तन फ़वक़तन ऐसे प्रोग्राम तर्तीब दिए जाएं जो लोगों की गिरह कुशाई का सामान फ़राहम कर सकीं।अस्हाब हल-ओ-अक़द की ऐसीटोली जो रास्त तौर पर हालात से नबरदआज़मा होती हो उन्हें प्रोग्राम का हिस्सा बनाया जाये और उन के तजुर्बात से इस्तिफ़ादा किया जाये।साथ ही मुस्लमानों के तर्ज़ फ़िक्र-ओ-अमल से उन लोगों को रोशनास किराया जाये जोकिम अज़ कम अक़ल्लीयतों के हुक़ूक़ का तहफ़्फ़ुज़ हैं।

Ammis Biryani

MIA

Zaki Khaleeli

Abdullah

2009 ईःइस्लामी बैंकिंग सैमीनार,कोलकाता:2009 ईः में अपने आग़ाज़ के वक़्त हीहफ़तरोज़ा दी संडे इंडियन के इश्तिराक से कोलकाता के मुस्लिम इंस्टीटियूट में इस्लामिक बैंकिंग प्रयुक् रोज़ा सैमीनार का इनइक़ाद किया गया जिस में इस्लामिक डीवलपमनट बैंक ,जद्दा से वाबस्ता डाक्टर औसाफ़ अहमद,बीइरीज़ अमाना इंडिया से वाबस्ता डाक्टर शार्क़ निसार,टूर्स मीचोल फ़ंड के मार्केटिंग हैड नाज़िश अहमद,इस्लामी तिजारा के मुदीर इमतियाज़मरचैंट,इज़ाफ़ा इनवैस्टमैंट के एम डी अशर्फ़ मुहम्मदी,रिलाइंस ईमान मीचोल फ़नडके ज़िम्मेदार सय्यद इला-ए-उद्दीन,टाटा ए आई जी के वाइस परीसीडनट यूसुफ़ पंच मढ़ी वाला,इंडियन सैंटर फ़ार इस्लामिक फाइनांस के जनरल सैक्रेटरी ऐच अबद अलरक़ीबसाहिबान ने शिरकत की और अपने ख़्यालात से आगाह किया।मुक़ामी तौर पर ताजिरों,मुफ़क्किरों ,अदीबों के साथ तलबा की बड़ी तादाद ने भी शिरकत की और फ़ाज़िलमुक़र्ररीन के ख़ताबात से इस्तिफ़ादा किया।
2010 ईः मुस्लिम सनअत कार चैलेंजिज़-ओ-मवाक़े सैमीनार ,मुंबई: 2010 ईः में हफ़तरोज़ासंडे इंडियन के इश्तिराक से ही मुस्लिम सनअत कारों की कान्फ़्रैंस इस्लाम जिमखाना ,मुंबई में मुनाक़िद हुई जिस में बीइरीज़ ग्रुप (बैंगलौर)के पार्टनर मुहम्मद सिद्दीक़ बेअर य,एलिसा मत इंटरनैशनल के सी एम डी ग़ुलाम पेश इमाम,ए टू जैड डायग्नोस्टिक सैंटर के मालिक डाक्टर मुहम्मद अली पाटनकर,अक़ल्लीयती वज़ीर हुकूमत महाराष्ट्र मुहम्मद आरिफ़ नसीम ख़ान,ताजिर-ओ-सनअत कार नीज़ महाराष्ट्र समाजवादी पार्टी सदर अब्बू आसिमआज़मी,नीटन वालो इंडस्ट्रीज़ के मालिक वे आर शरीफ़,सूपारी वाला एक्सपोर्ट के सी एम डीअबद उल-क़ादिर फुज़लानी,मोती वाला ज्यूलरस के मालिक समद मोती वाला ,परोफ़ीशीइर (बैंगलौर)के एम डी ख़लील-उल-ल्लाह बैग वग़ैरा के इलावा कसीर तादाद में ताजिर-ओ-सनअत कारों ने शिरकत की और अपने ख़्यालात का इज़हार किया ।इसी प्रोग्राम में ऑफीसर शर्ट के मालिक इक़बाल अबद अलहमीद मैमन ,सय्यद मुहम्मद बीइरी,डाक्टरअबद उल-क़ादिर फुज़लानी,वे आर शरीफ़ को बेहतरीन ताजिर ऐवार्ड से भी नवाज़ा गया।
2011 ईः हिंदूस्तान में मुस्लमानों की मआशी क़ुव्वत सैमीनार,मुंबई: 2011 ईः में टू सर्किलडाट नैट के इश्तिराक से मुंबई के होटल ताज परीसीडनट में “Economic Empowerment of Muslims in India (Beyond Sachar Report)”पर सैमीनार मुनाक़िद किया गया जिस में सच्चर कमेटी के रुकन अब्बू सालिह शरीफ़,बंबई स्टाक ऐक्सचेंज के सी ई ओ आशीष कुमार चौहान,नैशनल असपाट ऐक्सचेंज के सी ई ओ अंजानी सिन्हा,बेसिक्स फाइनांस के डायरैक्टर विजय महाजन,टूर्स मीचोल फ़ंड के सी ई ओ सय्यद वक़ार नक़वी,तासीस के डायरैक्टर डाक्टर शार्क़ निसार,इंडियन सैंटर फ़ार इस्लामिक फाइनांस के जनरल सैक्रेटरी ऐचअबद अलरक़ीब ,वग़ैरा के इलावा कसीर तादाद में अस्हाब हल-ओ-अक़द ने शिरकत की और प्रोग्राम से इस्तिफ़ादा किया।इस प्रोग्राम में तासीस के डायरैक्टर डाक्टर शार्क़ निसार को उन की ख़िदमात के इव्ज़ ऐवार्ड से नवाज़ा गया।
2012 ईः चौथा कल हिंद अक़ल्लीयती मआशी इजलास ,मुंबई : 2012 ईः में मईशत ने बगै़र किसी इश्तिराक के तन-ए-तनहा कल हिंद अक़ल्लीयती मआशी इजलास का इनइक़ादअक़ल्लीयतों की मआशी क़ौमी धारे में शमूलीयत: तजावीज़-ओ-लायेहा-ए-अमलके मौज़ू के तहत इस्लाम जिमखाना में किया जिस में इस्लामिक बैंक आफ़ बर्तानिया के मुशीर मुफ़्तीबरकत उल्लाह अबद उल-क़ादिर ,बी ऐस ई के डिप्टी डायरैक्टर अरूण डोलास,नैशनल असपाट ऐक्सचेंज के मार्केटिंग हैड संतोष मान सिंह,भिंडी बाज़ार प्रोजेक्ट के सी ओ ओ अबीज़र दीवान जी,तासीस के डायरैक्टर डाक्टर शार्क़ निसार वग़ैरा ने बतौर मुक़र्रर शिरकत की जबकि महाराष्ट्र के वज़ीर मालियात जयंत पाटल ने अपना तहरीरी पैग़ाम भेजा जिसेसाबिक़ ऐम एलए प्रिंसिपल सुहेल लोखंडवाला ने पढ़ कर सुनाया।इसी प्रोग्राम में नाथानी ग्रुप के सी एम डी अबद अलहमीद नाथानी नीज़ इस्लाम जिमखाना के सरबराह ज़का-ए-अल्लाह सिद्दीक़ी को मईशत 2012ऐवार्ड से नवाज़ा गया।
लिहाज़ा साबिक़ा रवायात की रोशनी में ही हम पांचवां कल हिंद अक़ल्लीयती तिजारतीइजलास शहर बैंगलौर के होटल केनोपी में मुनाक़िद है।

About Maeeshat Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

7 + 1 =

Scroll To Top